किताब (अप्रैल 2016)

101 किताबें गज़लों की

नीरज गोस्वामी

शिवना प्रकाशन, पीसी लैब, सम्राट कॉम्प्लेक्स बेसमेंट, बस स्टैंड, सीहोर-466001 
मूल्य- 150

साहित्य की दुनिया में अपेक्षाकृत कम चर्चित लेकिन बेहतर रचनाओं का ज़िक्र लेखक ने अपने ब्लॉग ‘किताबों की दुनिया’ में किया है. यहां उर्दू गज़लों की कुछ ऐसी किताबें भी है जिनके बारे में पढ़कर पाठक उन्हें पाने को आतुर हो जायेगा. जीवन संघर्षों के बीच सुकून पहुंचाती इन पुस्तकों के एक साथ प्रस्तुत करने की यह एक अनोखी कोशिश है. अंदाजे बया भी अलग.


त्रेता-विमर्श

सं.- द्वारिका प्रसाद चारुमित्र

ईशा ज्ञानदीप, ए.डी. 77ए, शालीमार बाग,
नयी दिल्ली- 110088
मूल्य – 395 `

स्त्राr एवं दलित विमर्श की दृष्टि से रामकथा के पुनर्पाठ के रूप में लिखी उद्भ्रांत की काव्यकृति ‘त्रेता’ के समीक्षालेखों का संग्रह इस पुस्तक में किया गया है. आनंद प्रकाश दीक्षित, खगेंद्र ठाकुर, नामवर सिंह जैसे अनेक विद्वानों ने इस कृति पर अपनी-अपनी दृष्टि से चिंतन किया है. कृति को समझने के लिए पुस्तक उपयोगी है.


समय लकड़हारा

यश मालवीय

अंजुमन प्रकाशन 942, आर्य कन्या चौराहा मुठ्ठीगंज, इलाहाबाद – 211003 

मूल्य- 150 `

इतिहास की मौन शब्दावलियों से लेकर आम आदमी के मन के लोहे के टूटने और उसकी वेल्डिंग के लिए सड़क से घर जाने के बजाय घर से सड़क की ओर निकल पड़ने तक का रेखांकन इन नवगीतों में दिखाई पड़ता है. वर्तमान के कठिन प्रसंगों के शब्दांकन और दैनंदिन के छोटे-बड़े प्रसंगों को अपने आस-पास बिखरे जीवंत संदर्भों के माध्यम से कवि ने अपनी रचनाओं में उकेरा है.


अवाक् आतंकवादी

अजय सोडानी

अंतिका प्रकाशन, सी-56/यूजीएफ-IV, शालीमार गार्डन, एक्सटेंशन-II गाज़ियाबाद-201005, मूल्य- 225 `

मानवीय रिश्तों के निरंतर ह्रास, मूल्यों के क्षरण, सामाजिक जीवन में विघटन को पुस्तक में व्यापक मानवीय-दृष्टि के साथ उकेरा गया है. 13 कहानियों के इस संग्रह में आतंकवाद की भीतरी पड़ताल के साथ ही एक डॉक्टर के निजी जीवन की मानसिक उथल-पुथल भी शामिल है.


स्पन्दन और अनुभूतियां

प्रभा माथुर

जेनेक्स्ट पब्लिकेशन,

23, मेन अंसारी रोड,

दरियागंज, नयी दिल्ली-110002  मूल्य- 190 `

सामाजिक, सांस्कृतिक, पारिवारिक और राष्ट्रीय महत्त्व के विषयों के मनोवैज्ञानिक पक्ष को इन कहानियों, लघुकथाओं और लेखों में प्रकट किया गया है. इन कहानियों में लेखिका ने ममता, प्रेम, वितृष्णा जैसी मानवीय संवेदनाओं, सम्बंधों, व्यक्तित्व की संरचना एवं अंतर्द्वद्व को बड़ी कुशलता से शब्दायित किया गया है.


दरकते रिश्ते

डॉ. वद्या पालीवाल

हिमांशु पब्लिकेशन्स, 464, हिरण मगरी, सेक्टर 11, उदयपुर-‹13002 (राज.)

मूल्य- 175 `

जीवन के बदलते मानवीय मूल्यों का खुलासा करती 21 कहानियों का यह संग्रह न तो परम्परा को पूरी तरह से नकारता है और न ही आधुनिकता को पूर्णतया स्वीकार ही करता है. इन कहानियों के पात्र तथा इनका परिवेश अपनी समकालीन परिस्थितियों के अनुसार ढलकर मानव जीवन का पड़ताल करती हैं. कहानियां जीवन में सकारात्मक मानवीय मूल्यों की स्थापना में सहायक हैं.


कुछ और किताबें

हथेलियों में सूरज

मंजु महिमा भटनागर

नव्या पब्लिकेशन, ‘ओम’,
गोकुलपार्क सोसायटी, 80 फुट रोड, सुरेन्द्रनगर-363 002.

मूल्य-150 


शायद सुकूं मिले

चंद्रकांत द्विवेदी

प्रगतिशील लेखक संघ, मन्दसौर (म.प्र.),

बी-36, जनता कॉलोनी, मन्दसौर-458001 (म.प्र.) मूल्य-100 


मैं अभी बेटी हूं

ज्ञानदेव मुकेश

लॉडर्स पब्लिशिंग हाऊस, C-16, अशोकप्रस्थ, बाई पास रोड, डिबडीह, रांची-834002

मूल्य-150 


आसमान के घर की खुली खिड़कियां

सरला माहेश्वरी

सूर्य प्रकाशन मंदिर, बीकानेर

नेहरू मार्ग (दाऊजी रोड), बीकानेर
मूल्य-300 


एक स़फरनामा ज़िंदगी का…

कमलेश माथुर

बुकवर्ड्स, डी-3-ए, विश्वविद्यालयपुरी, आशा पब्लिक स्कूल के पास, गोपालपुरा बाईपास, जयपुर-18. मूल्य-200 


इलेक्ट्रॉनिक-मीडिया का स्वरूप-विकास

डॉ. सीमा बिनोद भूतड़ा

लोकवाणी संस्थान, डी-585ए, गली नं. 3, अशोक नगर, निकट वजीराबाद रोड,
शाहदरा, दिल्ली-110093 मूल्य-450 `

Leave a Reply

Your email address will not be published.