ऑनलाइन भुगतान

60 साल पहले एक बीज बोया गया था, जो आज फलों-फूलों से लदा वृक्ष बनकर समाज को सदविचारों की छाया दे रहा है. देश के आज़ादी प्राप्त करने के पांच वर्ष बाद ही 1952 में स्वर्गीय श्री गोपाल नेवटिया ने हिंदी में एक डाइजेस्ट प्रकाशित करने की ज़रुरत महसूस की थी. इसी कामना ने नवनीत को जन्म दिया, जो पिछले 60 साल से निरंतर प्रकाशित हो रहा है.
आज नवनीत संभवतः हिंदी की सबसे पुरानी मासिक पत्रिका ही नहीं है,देश की सबसे महत्वपूर्ण पत्रिकाओं में इसकी गणना होती है. साहित्य, संस्कृति और समाज की धमनियों को समझने, उनकी धड़कनों को आवाज़ देने और समय को दिशा देने की एक सार्थक समझ और कोशिश का एक नाम है नवनीत.
भारतीय विद्या भवन द्वारा प्रकाशित यह पत्रिका उन मूल्यों और आदर्शों की संवाहक है जो भारतीय संस्कृति को एक पहचान देते हैं.
समय की आवश्यकताओं को समझकर उनके अनुरूप स्वयं को ढालने और उन आवश्यकताओं की पूर्ति करते हुए, समय की शक्तियों को गति देने का एक अविराम संकल्प है नवनीत.
हिंदी और अन्य भारतीय भाषाओं के शीर्ष रचनाकारों की लेखनी के माध्यम से यह पत्रिका सांस्कृतिक पत्रकारिता की एक पहचान बन चुकी है.
विषयों की विविधाता और गहराई के साथ उनका विश्लेषण नवनीत की विशेषता है और पुरानी तथा नई पीढ़ी के लिए सार्थक सामग्री नवनीत को विशिष्ट बनाती है.

Navneet Hindi Magazine [SUBSCRIBE NOW]

Hindi monthly, devoted to life, literature and culture.

Language : Hindi
Periodicity : Monthly.
Publishing on : 1st of every month.
Editor : Vishwanath Sachdev
Editorial, Circulation & Advertisements:

Navneet
Bharatiya Vidya Bhavan
Kulapati Dr. K. M. Munshi Marg,
Chowpatty, Mumbai 400 007.
Phone: 022-23631261 / 23634462
Fax No: 022-23630058
E-mail:bhavan@bhavans.info

SUBSCRIPTION RATES

12 issues per year
Single Copy Regular: Rs. 30/-
Single Copy Special: Rs. 40/-
Inland Rates
One year: Rs. 300/-
Two years Rs. 580/-
Three years Rs. 850/-
Five years Rs. 1,400/-
Ten years Rs. 2,800/-

Abroad

  • Surface Mail All Countries (One year): Rs. 1,500/-
  • Air Mail All Countries(One year): Rs. 2,600/-

POSTAGE FREE

13 comments for “ऑनलाइन भुगतान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *