जनवरी 2020

कुलपति उवाच 

03     हमारा संविधान, हमारी ताकत

       के.एम. मुनशी

संदेश

04     युवा भारत का आह्वान

       सुरेंद्रलाल जी. मेहता

05     नया साल नयी खुशियों वाला हो

       होमी दस्तुर

पहली सीढ़ी

       नरेश सक्सेना

आवरण-कथा

12     नयी पीढ़ी, नया सोच

       सम्पादकीय

14     सपाटबयानी का फैलता भूगोल

       अशोक वाजपेयी

17     यही पीढ़ी लड़ेगी न्याय की लड़ाई

       प्रियदर्शन

22     स्वयं से मेरी अपेक्षाएं 

       रमेश उपाध्याय

26     यह कैसी दुनिया दी है आपने हमें?

       संज्ञा उपाध्याय

29     युवा कविता को अपना रास्ता खुद तलाशना है

       अच्युतानंद मिश्र

35     नयी परम्पराओं का निर्माण

       गंगाशरण सिंह

39     देश के युवा

       मधु कांकरिया

43     नयी पीढ़ी चलती नहीं, फलांगती है…

       राजी सेठ

49     वक्त को अपनी मुट्ठी में रखती है आज की युवा पीढ़ी 

       संजय कुंदन  

धारावाहिक उपन्यास 

173    योगी अरविंद (छठी किस्त)

       राजेंद्र मोहन भटनागर

व्यंग्य

157    दंतहीन, विषरहित, विनीत और सरल

       ललित कुमार

162    शिकारी का अधिकार

       आरिफा एविस

शब्द-सम्पदा

185    बारिश में स्वयंवर और बैल

       अजित वडनेरकर

आलेख 

164    आओ, इंसानियत से इश्क करें

166    `मैं हर चीज़ पर शक करता हूं’

       पंकज सुबीर

188    किताबें

कथा

53     पासवर्ड  

श्रद्धा थवाईत

63     लखि बाबुल मोरे

       आकांक्षा पारे काशिव

70     थोड़ा ज़्यादा मानवीय 

       प्रदीप जिलवाने

79     चाल और मात के बीच  

प्रज्ञा

87     नीले पंखों वाली चिड़िया  

मनीष वैद्य

92     पहचान  

सरिता कुमारी

101    पांडे सदन  

इंदिरा दांगी 

117    रंगों भरा आसमान

       सुरेंद्र रावसाहेब पाटील

128    माजो  

पन्ना त्रिवेदी

कविताएं

139    दो कविताएं      

आभा बोधिसत्व

140    तीन कविताएं     

अमृता सिन्हा

144    चार कविताएं     

निर्मल हाल्दार

147    ये गांव उदास     

पृथ्वीराज तौर

148    स्त्री

हर्षदा सुंठणकर

150    दो डालियां       

नरेश सोलंकी

152    सात कविताएं     

सोनल शर्मा

154    दो कविताएं      

सुदीप्त पावर्ती

157    सच और झूठ    

रीता दास राम

समाचार

190    भवन समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.